Homeसंघ लोक सेवा आयोग

UPSC के लिए योग्यता की अन्य शर्ते

Like Tweet Pin it Share Share Email

जब आपने सिविल सेवा परीक्षा के आकर्षण को देखते हुए IAS बनने का मन बना चुके हैं और तदानुसार सिविल सेवा परीक्षा में शामिल होने का संकल्प ले चुके हैं तो फिर स दिशा में पहला कदम परीक्षा और उसकी प्रणाली को समझने की होनी चाहिए । बिना परीक्षा प्रणाली को समझे आप का सारा प्रयत्न बेकार जाएगा । मेरी टीम के पास हजारों ईमेल और Whats App हर महीने आते हैं जिससे पता चलता है कि बहुत से छात्र सिविल सेवा परीक्षा की सामान्य बातों से भी परिचित नहीं होते हैं यहां तक की उम्र व अवसर जैसे तथ्यों से भी अवगत नहीं होते ।

IAS eligibility age or attempt

परीक्षा की बारिकियों को समझना तो दूर की बात है पर ऐसे छात्रों की जिज्ञासाओं पर हंसने के बजाए हमें उनकी प्रशंसा करनी चाहिए क्योंकि वह अपने मन से उत्पन्न सारे प्रश्न को परीक्षा में प्रवेश करने से पहले दूर करना चाहते हैं । और यह प्रशंसनीय कदम है । देश के छोटे छोटे कस्बों और गांव में रहने वाले छात्रों से परीक्षा की सभी बारीकियों से परिचित होने की अपेक्षा करना उचित नहीं है । पर इतना जरूर है कि सिविल सेवा परीक्षा में शामिल होने से पहले इसकी प्रक्रियाओं से अवगत तो अवश्य रूप से होना चाहिए यदि यदि आप इन प्रक्रियाओं से अवगत नहीं है और परीक्षा में शामिल होने जा रहे हैं तो आप उस क्रिकेट के उस बॉलर के समान है जिसे वाइड और नो बॉल की भी जानकारी नहीं है और बॉलिंग करने के लिए तैयार है । ऐसे में एक मार्गदर्शक के रुप में UPSC IAS GURU टीम का यह कर्तव्य बनता है कि आपको सिविल सेवा परीक्षा की उन बारिकियों से परिचित करवाया जाए जो कि सिविल सेवा परीक्षा के एक अभ्यर्थी से अपेक्षा की जाती है ।

क्या आप सिविल सेवा परीक्षा के लिए योग्य है ?



संघ लोक सेवा आयोग की सिविल सेवा परीक्षा में शामिल होने के लिए न्यूनतम एवं अधिकतम उम्र सीमा निम्नलिखित है

  • 1. परीक्षा वर्ष में 1 अगस्त को न्यूनतम उम्र 21 वर्ष और अधिकतम 30 वर्ष
  • 2. अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति के छात्रों को अधिकतम उम्र सीमा में 5 वर्ष की छूट दी जाती है यानि परीक्षा वर्ष 1 अगस्त को यदि उनकी आयु 35 वर्ष या उससे कम है तो वह सिविल सेवा परीक्षा में बैठने के लिए पात्र होते हैं ।
  • 3. अन्य पिछड़े वर्गों के छात्रों को भी ऊपरी आयु सीमा में 3 वर्षों की छूट प्रदान की जाती है अर्थात वह 33 वर्ष की आयु तक परीक्षा में प्रवेश के लिए पात्र होते हैं ।
  • 4.कुछ अन्य वर्गों के लोगों को भी ऊपरी आयु की छूट प्रदान की जाती है जिसका उल्लेख नहीं किया जा रहा है ।

वैसे अभ्यर्थी जो M.B.B.S. के फ़ाइनल ईयर में हैं या जिनकी इंटर्नशिप अभी पूरी नहीं हुई है वो भी सिविल सेवा मुख्य परीक्षा में शामिल हो सकते हैं । लेकिन साक्षात्कार के दौरान उन्हें पूरी डिग्री साक्षात्कार बोर्ड के समक्ष रखनी पड़ती है ।

 आयु सीमा 

न्यूनतम आयु सीमा सभी अभ्यर्थियों के लिए अनिवार्य हैं –

जिस साल आप एग्जाम दे रहे हैं उसी साल 1 अगस्त तक आपकी न्यूनतम आयु 21 वर्ष हो जानी चाहिए,अन्यथा आप परीक्षा में नहीं बैठ सकते।

अधिकतम आयु सीमा

सामान्य श्रेणी – 32 वर्ष
अन्य पिछड़ा वर्ग – 35 वर्ष
अनुसूचित जाति/जनजाति – 37 वर्ष
दिव्यांग – 42 वर्ष

UPSC अवसरों (प्रयासों) की अधिकतम सीमा  Attempt limit

सामान्य श्रेणी – 6
अन्य पिछड़ा वर्ग – 9
अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति – कोई प्रतिबंध नहीं
दिव्यांग – अनुसूचित पिछड़ा वर्ग – 9
अनुसूचित जाति/जनजाति – कोई प्रतिबंध नहीं।

क्या है सिविल सेवा परीक्षा के लिए न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता ?



सिविल सेवा परीक्षा के अभ्यार्थी के पास भारत के केंद्रीय राज्य विधान मंडल द्वारा नियमित किसी भी विश्वविद्यालय कीया संसद के अधिनियम द्वारा स्थापित किया विश्वविद्यालय अनुदान आयोग अधिनियम 1956 के खंड 3 के आधीन विश्वविद्यालय के रूप में मानी गई किसी भी अन्य शिक्षा संस्थान की डिग्री अथवा समकक्ष योग्यता होनी चाहिए जो छात्र सिविल सेवा परीक्षा के लिए आवेदन देते समय स्नातक के अंतिम वर्ष की परीक्षा दे चुके हैं पर उसका परिणाम जारी नहीं किया जा सका है , वह भी प्रारंभिक परीक्षा में बैठने के लिए पात्र होते हैं परंतु उन्हें मुख्य परीक्षा के लिए आवेदन देते समय अपने सभी प्रमाण पत्र की फोटो कॉपी देनी होती है ।

विशेष परिस्थितियों में UPSC ऐसे किसी भी उम्मीदवार को परीक्षा में प्रवेश पाने का पात्र मान सकता है जिसके पास ऊपर दी गई कोई भी डिग्री ना हो , बशर्ते कि उम्मीदवार ने किसी संस्था द्वारा ली गई ऐसी कोई परीक्षा पास कर ली हो जिसका स्तर आयोग के मतानुसार ऐसा हो कि उसके आधार पर उम्मीदवारों को UPSC परीक्षा में बैठने दिया जा सकता है । जिन उम्मीदवारों के पास ऐसी व्यवसायिक व तकनीकी योग्यताएं हो, जो सरकार द्वारा व्यवसायिक और तकनीकी डिग्रियों के समकक्ष मान्यता प्राप्त है वह भी UPSC परीक्षा में बैठने के पात्र होगें ।

जिन उम्मीदवारों ने अपनी अंतिम व्यवसायिक MBBS अथवा कोई अन्य चिकित्सा परीक्षा पास की हो लेकिन उन्होंने सिविल सेवा मुख्य परीक्षा का आवेदन प्रपत्र प्रस्तुत करते समय अपना इंटर्नशिप पूरा नहीं किया है वह भी अंतिम रुप से परीक्षा में बैठ सकते हैं ,बशर्ते कि वह अपने आवेदन पत्र के साथ संबंधित विश्वविद्यालय या संस्था के प्राधिकारी से इस आशय के प्रमाण पत्र की एक प्रति प्रस्तुत करें कि उन्हें अपेक्षित अंतिम व्यवसायिक चिकित्सा परीक्षा पास कर ली है । ऐसे मामलों में उम्मीदवारों को साक्षात्कार के समय विश्वविद्यालय / संस्था के संबंधित समक्ष प्राधिकारी से अपनी मूल डिग्री अथवा प्रमाण पत्र प्रस्तुत करने होंगे कि उन्होंने डिग्री प्रदान करने हेतु सभी अपेक्षाएं ( जिसमें इंटर्नशिप पूरा करना भी शामिल है ) पूरी कर ली हो ।

शैक्षणिक योग्यता के मामले में अक्सर छात्रों का यह सवाल होता है कि ग्रेजुएशन के अंतिम वर्ष वाले छात्र परीक्षा में बैठ सकते हैं या फिर जहां से उन्होंने स्नातक की डिग्री ली है उसकी मान्यता है । कई छात्रों का यह भी सवाल होता है कि डिस्टेंस एजुकेशन या इवनिंग क्लासेज या फिर किसी अन्य बोर्ड ( मदरसा या संस्कृत बोर्ड ) के प्रमाण पत्रों की मान्यता है या नहीं जहां तक पहला सवाल का मत है तो यहाँ हमने पहले ही बता दिया है , कि जो छात्र स्नातक के अंतिम वर्षों में है वह भी प्रारंभिक परीक्षा में बैठ सकते हैं परंतु उन्हें मुख्य परीक्षा के आवेदन करते वक्त स्नातक की परीक्षा अवश्य रुप से पास कर लेनी होगी क्योंकि संघ लोक सेवा आयोग UPSC मुख्य परीक्षा के आवेदन मांगते वक्त सभी प्रमाण पत्रों की छाया प्रति मांगता है ।

चलिए अब आते हैं दूसरे सवाल पर कि जिस संस्था से आपने स्नातक या उसके समकक्ष डिग्री ली है उसकी मान्यता है या नहीं । तो फिर इसके लिए आप विश्वविद्यालय अनुदान आयोग UGC , केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय या संबंधित राज्यों की शिक्षा मंत्रालय की वेबसाइट पर जाकर इसकी जांच कर सकते हैं । वहां उन विश्वविद्यालय या शैक्षणिक संस्थाओं की सूची दी होती है जो मान्यता प्राप्त होते हैं ।

मेरे पास परीक्षा में बैठने के लिए कितने अवसर हैं , और यूपीएससी की परीक्षा के लिए आवेदन कैसे करते हैं । ऐसे सवालों के जवाब आपको अगली पोस्ट पर मिलेंगे आपको हमारे यह पोस्टे है कैसी लग रही हैं नीचे कमेंट करें । अपने दोस्तों के साथ शेयर करें , ताकि यह ऐसे लोगों तक पहुंच सके जिनकी इन्हें जरूरत है ।


Related post :- 

Comments (10)