Homeसरकारी योजनाएं

विज्ञान प्रौद्योगिकी और नवोन्मेष परिषद Innovation Cell

Like Tweet Pin it Share Share Email

-21 वी शताब्दी के भारत निर्माण हेतु 9 मिशन 

-भारत सरकार द्वारा प्रोफेसर के विजय राघवन की अध्यक्षता में 29 अगस्त 2018 को 21 सदस्य प्रधानमंत्री की विज्ञान प्रौद्योगिकी और नवोन्मेष परिषद (Innovation Cell) का गठन किया गया यह परिषद विज्ञान और प्रौद्योगिकी क्षेत्र में विशिष्ट पहलो का मूल्यांकन करते हुए नवोन्मेष के लिए मार्गदर्शन तय करता है यह परिषद विज्ञान प्रौद्योगिकी और नवोन्मेष से जुड़े सभी मामलों पर भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को परामर्श देती है इस परिषद के अन्य सदस्य निम्न है 

    1. डॉ वीके सारस्वत, नीति आयोग के सदस्य
    1. डॉ किरण कुमार, भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन के पूर्व अध्यक्ष
    1. प्रोफेसर अजय कुमार, भारतीय विज्ञान संस्थान, बेंगलुरु के संकाय सदस्य
    1. मेजर जनरल माधुरी कानितकर, संकाय अध्यक्ष, आर्म्ड फोर्स मेडिकल कॉलेज पुणे
    1. प्रोफेसर संघमित्रा बंदोपाध्याय, निदेशक भारतीय सांख्यिकी संस्थान कोलकाता
    1. मंजुल भार्गव प्रिंसटन विश्वविद्यालय
    1. प्रो सुभाष कक, स्टेट विश्वविद्यालय
  1. श्री बाबा कल्याणी, प्रबंध निदेशक भारत फोर्ज

-उपयुक्त के अतिरिक्त भारत सरकार के निम्न विभाग के सचिव भी इस परिषद का हिस्सा है 

    • कृषि अनुसंधान और शिक्षा विभाग
    • परमाणु ऊर्जा विभाग
    • जैव प्रौद्योगिकी विभाग
    • रक्षा अनुसंधान और विकास विभाग
    • उच्च शिक्षा विभाग
    • विज्ञान प्रौद्योगिकी विभाग
    • अंतरिक्ष विभाग
    • भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद
  • पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय

– प्रधानमंत्री की विज्ञान प्रौद्योगिकी और नवोन्मेष को संदर्भित विषय

    • -प्रधानमंत्री की विज्ञान प्रौद्योगिकी और नवोन्मेष परिषद के निम्न क्षेत्रों में नीति निर्माण अभिमुखीकरण समन्वय सहयोग नीतिगत पहलुओं के क्रियान्वयन कार्यक्रम सुधार के निर्धारण से संबंधित विषय संदर्भित है 
    • -केंद्र और राज्य सरकार दोनों के बहूपणधारियों के साथ सहयोग करके अनु प्रयोगात्मक अनुसंधान की विज्ञान और प्रौद्योगिकी के बुनियादी पहलुओं पर सहक्रिया करना 
    • -विज्ञान और प्रौद्योगिकी के उभरते क्षेत्रों में भावी तैयारियां को सुनिश्चित करना बृहत -अंतर मंत्रालय विज्ञान और प्रौद्योगिकी मिशन को को तैयार करना और समन्वय स्थापित करना
    • -प्रौद्योगिकी जनित नवोन्मेष और प्रौद्योगिकी उद्यमिता के लिए एक समर्थन कारी वातावरण प्रदान करना
    • -संपोषणीय विकास हेतु सामाजिक आर्थिक चुनौतियों का समाधान खोजने की दिशा में नवोन्मेष और प्रौद्योगिकी पहलुओं को आगे बढ़ाना
    • -अनुसंधान और नवोन्मेष को आगे बढ़ाने के लिए प्रभावी सार्वजनिक निजी संपर्कों को अंगीकृत करना
    • -अकादमिक उद्योग और सरकार सहित बहूपणधारियों के साथ मिलकर विज्ञान प्रौद्योगिकी तथा नवोन्मेष केंद्र को विकसित करना
  • -प्रचलित और भावी प्रौद्योगिकी में कौशल विकास को बढ़ावा देना।

– 9 मिशन नए भारत के निर्माण हेतु एक सकारात्मक पहल प्रधानमंत्री की विज्ञान प्रौद्योगिकी नवोन्मेष परिषद ने 6 मार्च 2019 को निम्न 9 मिशनों की घोषणा की 

-मिशन 1

नैसर्गिक भाषा अनुवाद उद्देश्य विज्ञान तक सबकी पहुंच विज्ञान और प्रौद्योगिकी में अवसर तथा सब की पहुंच को विकसित करने में वर्तमान में केवल अंग्रेजी भाषा में सामग्री से जुड़ी सभी बाधाओं को दूर करना

– सुगम पहुंच हेतु द्विभाषी प्रणाली तंत्र विकसित करना मशीन और मानव अनुवाद दोनों के सम्मिलित प्रयासों को प्राप्त करते हुए मिशन अंततः शिक्षण और अनुसंधान सामग्री दो भाषा को अंग्रेजी और भारत में प्रचलित स्थानीय भाषाओं में उपलब्ध कराना सहयोग के द्वारा क्रियान्वयन योग्य समाधान प्रस्तुत करना एक जैसी प्रणाली विकसित किया जाना प्रस्तावित है जिसके अंतर्गत केंद्रीय और राज्यों के निकाय तथा स्टार्टअप विज्ञान के क्षेत्र में मिलकर कार्य करते हुए क्रियान्वयन योग्य समाधान तंत्र का निर्माण करेगा  Institutions innovation council IIC program in hindi

-प्रमुख निकाय इलेक्ट्रॉनिक और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय मानव संसाधन विकास मंत्रालय विज्ञान और प्रौद्योगिकी 

-मिशन 2

क्वांटम फ्रंटियर क्वांटम यांत्रिकी प्रणालियों को नियंत्रित करना बुनियादी विज्ञान और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में वृहत्तर समकालीन चुनौतियों के रूप में अत्यधिक स्वतंत्रता के साथ क्वांटम यांत्रिकी प्रणालियों को नियंत्रित करने के लिए पहल करना क्वांटम मैकेनिक्स का अनुप्रयोग क्वांटम कंप्यूटर क्वांटम रसायन विज्ञान क्वांटम संचार नए पदार्थ का विकास क्वांटम संवेदक को और क्वांटम क्रिप्टोग्राफी के विकास तथा राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए जरूरी जानकारी तथा तकनीकी द्वारा क्वांटम फ्रंटियर से उत्कृष्टता का निर्माण करना 

-प्रमुख निकाय विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग अंतरिक्ष विभाग परमाणु ऊर्जा विभाग रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय Institutions innovation council IIC program in hindi

– मिशन 3

कृत्रिम मेधा उद्देश्य बेहतर सम्पर्कता और उत्पादकता में वृद्धि समक संकलन समक प्रसंस्करण तथा गणना में अविश्वसनीय उन्नतिकरण जनित परिस्थितियों के बीच बेहतर संपर्कता और उत्पादकता में वृद्धि सुनिश्चित करने के लिए निर्णायक तथा अन्य संबंधित कार्यों हेतु एक बौद्धिक प्रणाली विकसित करना सामाजिक परिवर्तन हेतु कृत्रिम मेधा स्वास्थ्य शिक्षा कृषि स्मार्ट शहर और अधोसंरचना स्मार्ट गत्यात्मकता और परिवहन सहित जैसे क्षेत्रों में सामाजिक आवश्यकताओं के माध्यम से लाभार्थियों को लाभ पहुंचाने के प्रयासों पर ध्यान 

-सहयोग उपागम राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर महान अकादमी उद्योग अंतरक्रिया के द्वारा प्रमुख अनुसंधान के विकास पर ध्यान प्रौद्योगिकी को बढ़ावा देना नवीन ज्ञान के सृजन और अनुप्रयोगों विकास के द्वारा प्रौद्योगिकी को बढ़ाना Institutions innovation council IIC program in hindi

– प्रमुख निकाय नीति आयोग और प्रौद्योगिकी विभाग इलेक्ट्रॉनिक और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय जैव प्रौद्योगिकी ।

-मिशन 4

राष्ट्रीय जैव विविधता मिशन भारत की जैव विविधता का अभिलेखीकरण संबंध संस्कृति और परंपरागत पद्धति सहित भारत में सभी प्रकार के जीव को कैटालॉगिंग और मैपिंग हेतु संपूर्ण संभाव्यता सहित भारत की जैव विविधता का समग्र अभिलेखीकरण करना भारत की जैव विविधता के वितरण और संरक्षण स्तर पर मूल्यांकन करना जैव विविधता के प्रबंधन और अनुश्रवण हेतु पर्यावरणीय समक के बड़े समुच्चय को संभाल सकने में सक्षम पेशेवरों के कैडर को विकसित करना विश्वसनीय सूचना की सुदृढ़ बुनियाद पर एक जीवन और ऊर्जावान जैव विविधता आधारित अर्थव्यवस्था की स्थापना पुनर स्थापन प्रयासों को सूचना प्रदान करने वाली आर्थिक प्रणाली को बेहतर ढंग से कार्य करने के लिए ज्ञान का प्रचार जनसहयोग कृषि उत्पादन और आजीविका सुरक्षा और समाज की सामान्य खुशहाली हेतु विकल्प को बढ़ाना। Institutions innovation council IIC program in hindi

– मुख्य निकाय पर्यावरण वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय जेव प्रोद्योगिकी विभाग।

– मिशन 5

बिजली चालित वाहन उद्देश्य जीवाश्म इंधन उपयोग में कमी लाना तथा उत्सर्जन रोकना भारत की गद्यात्मक्ता योजनाओं में बिजली चालित वाहन एक बड़ा घटक बिजली चालित वाहनों को आर्थिक दृष्टि से व्यवहारी और मापनीय बनाने के लिए  सघन और केंद्रित अनुसंधान विकास तथा नवोन्मेष की आवश्यकता है ताकि देशीय क्षमताएं विकसित की जा सके ऊर्जा दक्ष वाहनों की आवश्यकता प्रकाश और दक्ष बैटरीओं जो हमारी पर्यावरणीय दशा में बेहतर ढंग से कार्य करती है और उनमें तृप्त पदार्थो का पुनर्चक्रण भी किया जा सकता है की आवश्यकता है वाहन उप प्रणालियों व संगठनों का विकास करना भारतीय आवश्यकताओं के अनुरूप वाहनों प्रणालियों और संघटको का विकास करना जिनमें रेयर अर्थ आधारित इलेक्ट्रिक मोटर लियो बैटरी पावर इलेक्ट्रॉनिक्स आदि शामिल है इसके लिए अकादमिक उद्योग सहयोग को बढ़ावा देना प्रमुख निकाय विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग भारी उद्योग विभाग नवीन और नवीनीकरण ऊर्जा मंत्रालय विद्युत मंत्रालय नीति आयोग। Institutions innovation council IIC program in hindi

 -मिशन 6

जीव विज्ञान और मानव स्वास्थ्य उद्देश्य भारतीयों की विविधता और हमारी पर्यावरणीय आवश्यकताओं के अनुरूप हमारी जीवन चर्या के मानव जिनोम विशिष्ट क्षेत्रों तथा यह किस प्रकार स्वस्थय और बीमारी प्रतिरूप को प्रभावित करते हैं इस पर वृहद स्तरीय अनुसंधान की आवश्यकता है स्वास्थ्य की देखभाल और प्रकृति पर प्रभाव को समझने के लिए स्वास्थ्य और बीमारी के सैंपल का उपयोग जिनेमों के एक समग्र मानचित्र का निर्माण करना और इस गति को समझने की विभिन्न प्रकार पर्यावरण हमारे स्वास्थ्य पर किस प्रकार प्रभाव डालते हैं यही इस मिशन का प्राथमिक लक्ष्य है मिशन यदा-कदा होने वाली अनुवांशिक बीमारियों के जेनेटिक आधार तथा व्यापकता को चिन्हित पता लगाने के लिए मानव की जनसंख्या का जैनॉमिक अध्ययन पर ध्यान केंद्रित करेगा इससे बीमारियों की जांच पर इस और उपचार को बढ़ाने में सहायता मिलेगी जो देश की स्वास्थ्य देखभाल प्रणाली को एक नई दिशा देगा प्रमुख सहभागी जैविक प्रौद्योगिकी विभाग स्वास्थ्य अनुसंधान विभाग स्वास्थ्य विभाग विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग परमाणु ऊर्जा विभाग। Institutions innovation council IIC program in hindi

– मिशन 7

कचरे से संपदा कचरे से संपदा उर्जा उत्पन्न करने का कचरे का पुनर्चक्रण करके उसमें से उपयोगी पदार्थ को निकालने के लिए कचरे के उपचार हेतु प्रौद्योगिकी को चिन्हित विकसित और उपयुक्त स्वच्छ वातावरण हेतु नवीन प्रौद्योगिकी स्वच्छ और हरित पर्यावरण के सृजन को बढ़ावा देने वाली नवीन प्रौद्योगिकी को चिन्हित करने और सहायता के लिए प्राथमिकता वृत्ताकार अर्थव्यवस्था भारत में कचरे के निस्तारण को सुधार रूप प्रदान करने हेतु कचरा प्रबंधन के लिए वित्तीय दृष्टि से व्यवहार वृत्ताकार आर्थिक मॉडल विकसित करने के लिए विज्ञान प्रौद्योगिकी और नवोन्मेष लाभ लेते हुए स्वच्छ भारत और स्मार्ट सिटी परियोजनाओं की सहायता और समृद्धिकरण करना प्रमुख निकाय जैव प्रौद्योगिकी विभाग विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग पर्यावरण वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय शहरी विकास विभाग स्वच्छ भारत अभियान। Institutions innovation council IIC program in hindi

– मिशन 8

महासागरीय खोज उदेश्य महासागरों में खोज नीले सागरों के बारे में हमारे समझ और जानकारी को बढ़ाने की दिशा में गहरे महासागरों में वैज्ञानिक तरीके से खोज को बढ़ावा देना इस खोज में प्राप्त जानकारी जलवायु परिवर्तन के कारण महासागरों में होने वाले परिवर्तन में उत्पन्न होने वाले मुद्दों का समाधान खोजने में मदद मिलेगी इस मिशन में फोकस क्षेत्र निम्न है

– जीवित और गेर जीवित संसाधनों की खोज हेतु महासागरों की खोज

– जल के भीतर चलने वाले वाहन और रोबोट को विकास महासागरीय जलवायु परिवर्तन परामर्शदाता सेवाओं का विकास समुद्री संसाधनों के उपयोग हेतु और समुद्र के पानी की क्षारीयता को समाप्त करने की तकनीकों को अपनाना नवीकरणीय ऊर्जा पैदा करना प्रमुख निकाय पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय जैव प्रौद्योगिकी का विकास अंतरिक्ष विभाग नवीन और अक्षय ऊर्जा मंत्रालय तेल और प्राकृतिक गैस आयोग रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन भारतीय भूगर्भ सर्वेक्षण राष्ट्रीय हाइड्रोग्राफिक कार्यालय राष्ट्रीय जैव विविधता प्राधिकरण।

Institutions innovation council IIC program in hindi

– मिशन 9

अग्नि उदेश्य मिशन प्रधान वैज्ञानिक परामर्शदाता कार्यालय द्वारा प्रारंभ किया गया है उद्योग व्यक्तियों और जमीनी स्तर के निवेशकों को एक सूत्र में बांधकर नवोन्मेष समाधान की मार्केटिंग और व्यवसायीकरण के द्वारा देश की नवोन्मेष आर्थिक प्रणाली में तेजी लाने के राष्ट्रीय प्रयासों को सहायता और समर्थन देने पर लक्षित किया मिशन बहुआयामी है यह मिशन निवेशकों को उनकी प्रौद्योगिकी तैयार उत्पादों और समाधान को उद्योगों तक पहुंचाने का एक प्लेटफार्म उपलब्ध कराता है यह मिशन देश में समावेशी सामाजिक आर्थिक दृष्टि से एक नए युग का सूत्रपात हेतु तकनीकी उद्यमिता को बढ़ावा देता है इस मिशन में निम्न को भी शामिल किया गया है बाजार में उतरने को तैयार देशीय नवोन्मेष की सहायता और सम्पननिकरण के लिए आवश्यक सभी तकनीकी व्यवसायीकरण श्रृंखला सेवाओं का विकास सरकारी अनुसंधान और विकास प्रयोगशालाओं तथा अकादमिक के साथ मिलकर उनके नवोन्मेष के व्यवसाय करण में सहायता वैज्ञानिक नवोन्मेष प्रौद्योगिकी हस्तांतरण कार्यालय और प्रौद्योगिकी लाइसेंस कार्यालयों में क्षमता निर्माण और प्रशिक्षण की सुविधा लागत प्रभावी विपणन समाधान के विकास को बढ़ावा देने के लिए उद्योग की आवश्यकताओं को अनुसंधान प्रयोगशालाओं के साथ संबंध करना । Institutions innovation council IIC program in hindi

-प्रमुख निकाय इन्वेस्ट इंडिया प्रधानमंत्री की विज्ञान प्रौद्योगिकी और नवोन्मेष परिषद की 9 मिशन घोषित करने की पहल निश्चित तौर पर स्वागत योग्य है शाब्दिक रूप से सभी मिशन आकर्षक है लेकिन इनके सफल क्रियान्वयन में अनेक बाधाएं भी है प्रत्येक मिशन को पूरा करने के लिए कई कई विभाग और मंत्रालय की भूमिका है बहुपणधारी क्रियान्वयन की सफलता संदिग्ध होती है क्योंकि उनकी क्रियान्वयन में संसाधनों के आबंटन उपभोग स्तर पर समन्वय का अभाव पाया जाता है। Institutions innovation council IIC program in hindi


Related post :-

आदर्श आचार संहिता का विकास

World Environment Day: विश्व पर्यावरण दिवस

विश्व शहर दिवस 31 अक्टूबर

नीति आयोग की नई भारत हेतु रणनीति @75

आर्थिक आधार पर आरक्षण 3.0

Comments (0)